pm shram yogi mandhan yojana | श्रम योगी मानधन योजना 2020

pm shram yogi mandhan yojana  श्रम योगी मानधन योजना 2020


  • श्रम योगी मानधन योजना एक महत्वाकांक्षी एवं दिहाड़ी मजदूर श्रमिकों स्वीपर जैसे लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण पेंशन योजना साबित होगी इसके अंतर्गत केंद्र सरकार में निर्णय लिया है कि दिहाड़ी ए श्रमिक मजदूरों को ले पेंशन योजना की शुरुआत की है |
  •  इसके तहत लगभग 10 करोड लोगों को फायदा होगा और आने वाले 5 सालों में यह सबसे बड़ी पेंशन योजना के रूप में उभर कर सामने आएगी इसके तहत जितने रुपए का अंशदान श्रमिक करेगा उतने ही रूपए का अनुदान सरकार द्वारा जोड़कर व्यक्ति की उम्र 60 साल होने पर उसे पेंशन के रूप में हर मां 1000 से 5000 तक का पेंशन जिंदगी के ऐसे पड़ाव में जब व्यक्ति के हाथ पैर काम करना बंद कर देते हैं |
  •  यह योजना कारगर साबित होगी और बहुत सारे प्राइवेट सेक्टर हैं जिनमें व्यक्ति की पेंशन की कोई गारंटी नहीं है इसलिए सरकार ने विशेष अंशदान के साथ इस योजना की शुरुआत की है |

 मानधन योजना


   shram yogi mandhan yojana के   पात्र व्यक्ति



  1. मानधन योजना में असंगठित श्रमिकों मजदूरों किसानों जिनकी आए बहुत कम है प्राइवेट सेक्टर के सभी व्यक्ति जिनका पीपीएफ और कोई भी सरकारी पेंशन योजना ना मिलती हो वह इसके हकदार है |
  2. अपात्र व्यक्ति हैं इसके अलावा हर वह भारतीय इसके लिए पात्र माना जाएगा जो किसी भी प्रकार की सरकारी पेंशन नहीं ले रहा है |
  3.  केंद्र सरकार की पीपीएफ योजना का अधिग्रहण नहीं कर रहा हूं वह इस योजना का पात्र व्यक्ति माना जाएगा जिसकी समय आयु सीमा 60 वर्ष निर्धारित की गई है | 
  4. इसमें जिन श्रमिकों की मासिक आय बहुत ही कम है वह व्यक्ति उम्र के एक पड़ाव में पेंशन के लिए मोहताज होता है इसलिए हर भारतीय का पात्र है जो असंगठित क्षेत्र श्रमिक क्षेत्र दिहाड़ी मजदूर स्वीपर और ऐसे कई क्षेत्र हैं जिनमें व्यक्ति की पेंशन का निर्धारित अवधारणा नहीं है |


 प्रधानमंत्री  shram yogi mandhan yojana के लिए आयु सीमा


 मानधन योजना  के अंतर्गत भारतवर्ष का नागरिक 60 साल की उम्र तक योजना का लाभ ले सकता है इसके तहत जो भी राशि व मानदेय अंशदान वह तय करेगा उतना ही केंद्र सरकार मिलाकर व्यक्ति की 60 साल की उम्र होने पर उसे प्रत्येक माह 1000 से 5000 तक की पेंशन राशि उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी इस योजना के तहत सरकार की रहेगी |

 shram yogi mandhan yojana 2020


मानधन योजना को वर्ष 2018 19 के वित्तीय वर्ष में इसकी शुरुआत की गई अभी तक इससे 42 लाख 70 हजार लोग जुड़ चुके हैं सरकार का मानना यह है कि विगत 5 सालों में यह सबसे बड़ी पेंशन योजना के रूप में उभर कर सामने आएगी और लगभग 10 करोड लोगों को इसका फायदा मिलेगा इसके तहत व्यक्ति 60 साल की उम्र तक आवेदन कर सकता है |

पीएम मोदी (  shram yogi mandhan yojana) श्रम योगी मानधन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

1 आधार कार्ड
2 जनधन खाता आईएफएससी कोड के साथ हो
3 आधार कार्ड मोबाइल नंबर से लिंक हो वह मोबाइल नंबर
 और शपथ पत्र जिस पर की वह किसी अन्य पेंशन योजना से जुड़ा हुआ नहीं है स्वयं द्वारा सत्यापित किया हुआ कि यह संपूर्ण जानकारी मेरी निजी जानकारी में सत्य है
 वह व्यक्ति असंगठित श्रमिक क्षेत्र से हो

 प्रधानमंत्री श्रम श्रम योगी मानधन योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया mandhan yojana



  • इस योजना की आवेदन प्रक्रिया के लिए नजदीकी सीएससी केंद्र पर जाकर इस योजना में आवेदन करना है इस योजना में व्यक्ति को अपनी मृत्यु  नॉमिनी अर्थात मृत्यु के पश्चात योजना का लाभ जिस भी व्यक्ति को मिले उसका नाम दर्ज करना होगा |
  •  मंथली कंट्रीब्यूशन भी निर्धारित करना होगा जिसमें यदि आप 18 वर्ष की उम्र के हैं तो आपको 55 प्रतिमा 60 साल तक या राशि जमा करवानी होगी प्रथम कंट्रीब्यूशन केस भी लिया जा सकता है इसके उपरांत आप सीएससी पर अपना आवेदन प्रक्रिया पूरी करेंगे इसके बाद आपको श्रम मानदेय कार्ड प्रदान किया जाएगा |
  •  इस पर टोल फ्री नंबर है 1800 267 6888 अधिक जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर आप पूर्ण जानकारी पेंशन योजना के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |


 पीएम श्रम श्रम योगी मानधन योजना के तहत कितना करना होगा निवेश ( shram yogi mandhan yojana )



 इस योजना के तहत व्यक्ति को 60 साल की उम्र तक निवेश करना होता है निवेश का तरीका यह है कि वह rs55 से rs200 की किस्त कर सकता है यदि आप 18 वर्ष की उम्र में आवेदन करते हैं तो आपको rs55 की मासिक किस्त से जोड़े जाएंगे यह आपको 60 साल की उम्र में पूरे होंगे जितने रुपए आप जोड़ेंगे इसमें उतना ही सरकार कंट्रीब्यूशन जोड़कर आपके खाते में जमा कराएगी |


 mandhan yojana प्रक्रिया यह है कि यदि आप 29 साल की उम्र में आवेदन करते हैं तो आपकी कंट्रीब्यूशन राशि होगी ₹100 और यदि आप 40 की उम्र में इसे आवेदन करते हैं तो कंडीशन की राशि होगी ₹200 स्थित आप इस योजना में निवेश कर सकते हैं

 टोल फ्री नंबर 18002676888 पर बात करके इस योजना के बारे में पूरी जानकारी ली जा सकती है।


 
 shram yogi मानधन योजना के तहत योगदान ना करने की स्थिति में


 यदि कारणवश योजना मैं अपना कंट्रीब्यूशन ना कर पाए तो प्रत्येक माह की 10 तारीख पहले इसकी गणना होती है यदि एक या दो किस्त सूख जाए तो व्यक्ति नॉर्मल से प्लेंटी के साथ अपने किश्त सुचारू कर सकता है यदि व्यक्ति 10 वर्ष की अवधि से कम समय मैं स्कीम छोड़ना चाहता है तो उसकी जमा राशि के माय ब्याज उसे लौटा दिया जाएगा और उसकी पेंशन गारंटी खत्म हो जाएगी इस तरह कोई भी व्यक्ति आसानी से इस योजना के छोड़ सकता है और इसे छोड़ भी सकता है इसे पूर्णतया  पारदर्शी बनाया गया है |


  श्रम योगी मानधन योजना के अंतर्गत कितने लोगों को फायदा पहुंचा है


 mandhan yojana के तहत सरकार का मानना है कि 10 करोड लोगों को इसका फायदा पहुंचा है एवं विगत 5 सालों में यह सबसे बड़ी पेंशन योजना के रूप में सामने आएगी जिससे असंगठित श्रमिक वर्ग छोटे और लघु है कटु कुटीर उद्योगों पर काम करने वाले दिहाड़ी मजदूरों को उनकी वृद्धावस्था पेंशन के रूप में एक महत्वपूर्ण एवं महत्वाकांक्षी योजना के रूप में यह योजना काम करेगी इससे प्रत्येक व्यक्ति पंचर का अधिकार रखता है यह सरकार की सोच श्रमिकों के लिए कारगर साबित होगी इसमें असंगठित वर्ग के काफी सारे लोग इससे जुड़े हैं पिछले 2 वर्षों में 4270000 लोग इससे जुड़ चुके हैं |

thank you


No comments: